Tuesday, August 9, 2011

ये रिश्ता बड़ा अजीब लगता है!!!

ये रिश्ता बड़ा अजीब लगता है,
क्यों प्यार का बंधन अब करीब लगता है, 
क्यों लगता है जब हम दोस्त थे,
वो दिन थे कितने अच्छे,
वो खट्टी मीठी बातें,
और वो ख्याल थे कितने सच्चे,
क्यों टूट सी गई है डोर,
और धागे हुए कच्चे,
फिर भी जब तुम होते हो पास,
वो एहसास बड़ा ही अज़ीज़ लगता है,
ये रिश्ता बड़ा अजीब लगता है,
क्यों प्यार का बंधन अब करीब लगता है,

13 comments:

  1. ati sundar. aptly described by the title of ur blog.

    ReplyDelete
  2. Finally, I love it Hemant...First two lines are mind blowing...

    ReplyDelete
  3. बहुत बहुत खुबसूरत...

    ReplyDelete
  4. Beautiful lines! Penned down from the heart. Have a great week ahead, keep blogging:)

    ReplyDelete
  5. Thanks a lot everyone....
    each paycheque acts like a motivation trigger for me...

    ReplyDelete
  6. ये रिश्ता बड़ा अजीब लगता है,
    क्यों प्यार का बंधन अब करीब लगता है,
    Awesome awesome awesome.....

    ReplyDelete
  7. aaawww..:)lovely.
    http://chitrayurveda.blogspot.com

    ReplyDelete
  8. क्यों लगता है जब हम दोस्त थे,
    वो दिन थे कितने अच्छे,
    वो खट्टी मीठी बातें,
    और वो ख्याल थे कितने सच्चे,

    loved it..simply great dude..!!

    ReplyDelete
  9. Hey Risha and Praveen...
    thanks for dropping by....

    ReplyDelete

Your feedback here, are my pay-cheques ;)